Tally Solutions kya hai और इसका कैसे प्रयोग करें?

Tally kya hai

नमस्कार दोस्तों, उम्मीद करता हूं कि आप सभी ठीक होगे। आज हम आपको बताएंगे कि Tally kya hai और Tally Solutions kya hai साथ ही हम आपको बताएंगे कि कैसे आप इसको सीख सकते हो। पूरा जानने के लिए ब्लॉग को ध्यान से पढ़ें।

आज के समय में दोस्तों ज्यादातर काम कंप्यूटर की सहायता से कराया जाता है। जिस वजह से लोगों का कंप्यूटर सीखना काफी आवश्यक हो गया है। चाहे आप किसी भी प्रकार की नौकरी करना चाहते हो या स्वयं का ही कोई व्यापार शुरू करना चाहते हो। आप को कंप्यूटर जरूर आना चाहिए। तभी आप अपने कार्य में सफल हो पाओगे।

Tally Solutions की भी डिमांड इसी वजह से बढ़ती जा रही है। पहले लोग हिसाब किताब रखने के लिए किताबों का इस्तेमाल करते थे। परंतु कंप्यूटर के युग के साथ ही Tally का भी अविष्कार हुआ। जो कंप्यूटर में हमारे व्यापार से संबंधित हिसाब किताबों को संभाल कर रखने के काम आती है।

क्योंकि पहले के समय में जब लोग किताबों में हिसाब किताब लिखते थे। तब काफी समय लगता था और उसको सुरक्षित रखना भी काफी मुश्किल था। इसीलिए Tally का प्रयोग किया जाने लगा और आज प्रत्येक प्रकार की छोटी या बड़ी कंपनी सभी में Tally का प्रयोग किया जाता है।

Tally Solutions kya hai:

Tally का पूरा नाम Transactions Allowed is a Line Yard है। भारत में ज्यादातर कंपनियों में इसी अकाउंटेंट सॉफ्टवेयर को इस्तेमाल किया जाता है। इसको बनाने वाली कंपनी का नाम Tally solutions Pvt.Ltd है। जो एक Multinational कंपनी है। और भारत में इसका हेड ऑफिस बैंगलोर में स्थित है।

कंपनी की रिपोर्ट के अनुसार इस सॉफ्टवेयर को भारत में 15 लाख से भी ज्यादा लोग इस्तेमाल कर रहे हैं। इससे आप अंदाजा लगा सकते हो कि इसकी मार्केट में डिमांड कितनी अधिक है।

Tally Solutions
Tally kya hai

Tally का इतिहास:

आपको भी यह जानने की उत्सुकता होती होगी कि Tally का अविष्कार कैसे और किसके द्वारा किया गया? इसका भारत में सबसे पहले बैंगलोर में हेड ऑफिस Tally Solutions द्वारा स्थापित किया गया था। इस कंपनी को पहले Peutronics के नाम से जाना जाता था। जिसका बाद में नाम बदल कर Tally किया गया।

इस कंपनी को श्याम सुन्दर गोयका और उनके बेटे भारत गोयका ने सन् 1986 में मिलकर बनाया था। उस समय श्याम सुंदर गोयका दूसरी कंपनियों को कच्चा माल और मशीनरी सप्लाई करने का काम करते थे। परंतु उनको अपने व्यापार का हिसाब किताब संभालने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ती थी।

इसलिए उन्होंने ऐसा सॉफ्टवेयर बनाने की सोची जिससे उनका यह कार्य असान बन जाए। इसके लिए उन्होंने अपने बेटे को जिसने मैथमेटिक्स से ग्रेजुएशन की हुई थी, से कहा कि वह एक ऐसा सॉफ्टवेयर का निर्माण करें जिससे उनका हिसाब किताब आसान हो जाए।

तब उन्होंने MS-DOS के नाम से सॉफ्टवेयर का अविष्कार किया। जिसमें एकाउंटिंग के Basic Function ही शामिल थे। परंतु बाद में इसको काफी Update किया गया। इस सॉफ्टवेर को Peutronics Financial Accountant नाम के रूप में लॉन्च किया। जिसका बाद में नाम बदलकर 1988 में Tally कर दिया गया।

Tally किस काम आती है? :

इसकी मार्केट में इतनी डिमांड होने के बावजूद भी लोगों के मन में यह सवाल बना रहता है कि Tally Solutions kya hai मतलब कि Tally किस काम आती है? इसी विषय में हम आज आपको विस्तार से बताएंगे।

पहले के समय में लोग किताबों में ही हिसाब किताब को लिख दिया करते थे। क्योंकि उनका हिसाब एक सीमित मात्रा में ही होता था। परंतु आज के समय में छोटी छोटी कंपनियों में भी काफी ज्यादा मात्रा में हिसाब किताब होता है।

जिस कारण उनको किताबों में लिखकर संभाल पाना काफी कठिन कार्य है। और एक दूसरा कारण यह भी है कि किताबों में हिसाब किताब को सुरक्षित रखना भी चुनौतीपूर्ण कार्य था। परंतु Tally में हम आसानी से अपना सभी हिसाब किताब सुरक्षित रख सकते हैं।

यह एक अकाउंटिंग सॉफ्टवेयर है जिसको कंप्यूटर की सहायता से प्रयोग में लाया जाता है। इसकी मदद से हम अपना सारा हिसाब किताब कंप्यूटर में संभाल कर रख सकते हैं। साथ ही इसमें खर्चा भी काफी कम आता है। इसीलिए इसको कई जगह दुकानों में भी प्रयोग किया जाता है।

Tally के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए? :

इसके कोर्स को करने के लिए आपको किसी भी प्रकार की अधिक योग्यता की आवश्यकता नहीं है। आप 10वीं या 12वीं के बाद भी Tally Solutions को सीख सकते हैं। परंतु अगर आपको एकाउंटिंग आती है। तो आपके लिए इसको सीखना और भी आसान हो जाता है।

Tally कैसे सीखे:

अगर आप भी टेली करना चाहते हो तो आप कई कंप्यूटर संस्थानों से इसके कोर्स कर सकते हो। कई शहरों में Tally स्वयं इसकी शिक्षा देती है। जो आपको शिक्षा के साथ-साथ अपना सर्टिफिकेट भी देती है। जिसके आधार पर आप आसानी से कंपनी में नौकरी पा सकते हैं।

कई अन्य प्राइवेट व सरकारी संस्थानों के द्वारा भी इस कोर्स को करवाया जाता है। और वे भी अपनी तरफ से सर्टिफिकेट देते हैं। परंतु हम आपको यही सुझाव देंगे कि आप Tally Center से ही इस कोर्स को करें क्योंकि उस पर स्वयं टैली कंपनी साइन करके देती है। कोर्स होने के बाद आप इनकी साइट पर जाकर अपना सर्टिफिकेट चेक कर सकते है कि सही है या गलत।

यह भी पढ़े:-

Pocketfm से पैसा कैसे कमाएं ? | Pocketfm earn money 2022

Leave a Comment

Your email address will not be published.